Signal app क्या है? Signal app किस देश की कंपनी है? Signal app का CEO कौन है? Signal app owner कौन हैं? क्या Signal app whatsapp का alternative है?

Signal app के विषय में सम्पूर्ण जानकारी

Signal app क्या है? Signal app किस देश की कंपनी है? Signal app का CEO कौन है? Signal app owner कौन हैं?

Signal app क्या है? Signal app किस देश की कंपनी है? Signal app का CEO कौन है? Signal app owner कौन हैं? क्या Signal app whatsapp का alternative है?  अगर आप भी इन सवालों का जवाब चाहते हैं तो इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़ें इस आर्टिकल में signal application के विषय में विस्तृत रूप से क्रम से बताया गया है अगर आप इस आर्टिकल को संपूर्ण पढ़ते हैं तो नो डाउट आपको सिगनल एप के बारे में पूरी जानकारी मिल जाएगी और आपका डाउट भी क्लियर हो जाएगा।

क्यों सुर्खियों में आया Signal app-

 जैसा कि whatsapp के नए policy के घोषणा के बाद whatsapp users whatsapp new policy को मानने के लिए तैयार नहीं है यही कारण है कि व्हाट्सएप यूजर्स अब सिगनल ऐप पर जा रहे हैं  आपको बता दें कि यह मैसेजिंग एप व्हाट्सएप की तरह ही चलने वाला मैसेजिंग ऐप है जो व्हाट्सएप की एक मल्टीमीडिया मैसेजिंग एप है जिसे आप विंडोज, आईओएस, मैक और एंड्रॉयड डिवाइस में चला सकते हैं। सिग्नल एप का स्वामित्व सिग्नल फाउंडेशन (Signal Foundation) और सिग्नल मैसेंजर एलएलसी (Signal Messenger LLC) के पास है और  यह non profitable कंपनी है। 

Signal apps को किसने बनाया है और Signal app owner/ ceo कौन है 

इस application को अमेरिकन क्रिप्टोग्राफर मॉक्सी मार्लिनस्पाइक (Moxie Marlinspike) ने बनाया है और यही फिलहाल Signal मैसेंजर एप के सीईओ हैं। सिग्नल एप की टैगलाइन ‘Say Hello to Privacy’ है। जिससे कहीं ना कहीं यह पता चलता है कि यह कंपनी प्राइवेसी को लेकर सबसे ज्यादा पावरफुल कंपनी है जिसकी प्राइवेसी मजबूत और यूजर्स के मन को भाने वाली है।

Signal किस देश का app है 

अब आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जैसा कि पहले ही बताया जा चुका है कि इसे अमेरिकन क्रिप्टोग्राफर Moxie Marlinspike ने बनाया है जो कि अमेरिका के निवासी हैं अतः यह ऐप भी अमेरिकन मैसेजिंग ऐप है।

Signal application कब बना था 

सिगनल एप बहुत पहले ही लॉन्च किया गया था सन 2014 में ही सिग्नल ऐप को पहली बार लांच किया गया उसके बाद इसमें तरह तरह के बदलाव किए गए लेकिन इस ऐप को सफलता मिली व्हाट्सएप के पॉलिसी बदलाव के बाद लोग तेजी से इस ऐप  की ओर आकर्षित होने लगे सिग्नल कंपनी ने भी अपने ट्विटर हैंडल पर यह शेयर किया कि बहुत अधिक यूजर्स के एक साथ आ जाने के कारण कंपनी का सरवर भी स्लो हो गया है जिसको सही करने में कंपनी लगी है।

Signal app के सभी फीचर्स और कमियां-

अब जैसा कि हमने आपको पहले ही बता दिया है कि यह ऐप व्हाट्सएप की तरह ही काम करता है तो इस ऐप में आप वीडियो कॉलिंग मैसेजिंग ऑडियो कॉलिंग जैसे व्हाट्सएप के सभी फीचर्स का लुत्फ उठा सकते हैं।

Signal app क्या है? Signal app किस देश की कंपनी है? Signal app का CEO कौन है? Signal app owner

Signal app क्या है? Signal app किस देश की कंपनी है? Signal app का CEO Signal app owner कौन हैं?

Signal app क्या है Signal app किस देश की कंपनी है? Signal app का CEO कौन है? Signal app owner कौन हैं?

Signal app क्या है? Signal app कंपनी है? Signal app का CEO कौन है? Signal app owner कौन हैं?


आप इस ऐप में ग्रुप भी बना सकते हैं लेकिन ग्रुप में सिर्फ 150 लोगों को ही एड किया  जा सकता है। सिग्नल एप के साथ एक परेशानी भी है यह है कि इसका डाटा गूगल ड्राइव या किसी अन्य क्लाउड पर स्टोर नहीं होता तो अगर आपका फोन खो गया तो आप चैट का बैकअप नहीं ले पाएंगे। सिग्नल एप में ग्रुप बनाकर आप सीधे तौर पर किसी को उसमें एड नहीं कर सकते जिन्हें आप अपने ग्रुप में जोड़ना चाहते हैं, उनके पास पहले notification जाएगा, उसके बाद वे चाहेंगे तो आप उन्हें ग्रुप में एड कर पाएंगे यह इस ऐप के प्राइवेसी का अहम हिस्सा है। इसमें भी Delete for Everyone का सबसे जरूरी फीचर है।

Whatsapp alternatives-

अब अगर बात करें व्हाट्सएप के गाना दीजिए उसके बारे में तो अभी के समय में व्हाट्सएप पर बहुत सारे अल्टरनेटिव है आप हैं जिनमें टेलीग्राम और सिगनल ऐप प्रमुख अल्टरनेटिव  ऐप है लेकिन सिग्नल ऐप की प्राइवेसी पॉलिसी को देखते हुए लोग इस पर ज्यादा भरोसा कर रहे हैं और इसी पर अधिकतम लोग पहुंच रहे हैं।

Conclusion-

 अब जैसा कि हमने आपको Signal application क्या है? Signal app किस देश की कंपनी है? Signal app का CEO कौन है? Signal application owner कौन हैं? क्या Signal app whatsapp का सही alternative है? Signal application country के विषय में पूरी जानकारी आपको दे दी है हमें आशा है कि यह जानकारी आपको जरूर पसंद आई होगी अगर कहीं भी कोई भी जानकारी अधूरी रह गई हो तो कमेंट सेक्शन में जानकारी को जरूर पूरा करें ताकि Read Hindi News के Readers तक संपूर्ण जानकारी पहुंच सके हम अपने आर्टिकल को समय-समय पर अपडेट करते रहते हैं जिससे कि रीडर्स को संपूर्ण जानकारी मिल सके तो भविष्य में आप इस आर्टिकल को पुनः  पढ़ सकते हैं जिससे कि  आपको  समय के साथ पूरी जानकारी मिलती रहे धन्यवाद।

Previous
Next Post »