बिजनेस से जुड़ी जानकारी How to grow Business इस तरीके से व्यापार करके करें अच्छी आमदनी

बिजनेस से जुड़ी जानकारी

bijnes image


इस आर्टिकल में बिजनेस से जुड़े कई जानकारी आप को मिलने वाली हैं। जो बिजनेस कर रहें या फिर बिजनेस शुरू करने वाले हैं तो भी ये जानकारी होना बहुत ही जरूरी है। 

क्योंकि आज के जमाने में हर कोई बिजनेस करना चाहता है मगर बिजनेस करने से पहले उनको पता होना चाहिए कि बिजनेस किसे कहते हैं और बिजनेस होता क्या है, या फिर बिजनेस को करने का सही तरीका क्या है। 

यह सवाल उनके मन में होना भी चाहिए और इसका जवाब भी उन्हें पता होना चाहिए, क्योंकि आजकल हर कोई बिजनेस शुरू तो कर लेता है, मगर उसे चलाने और मेंटेन रखने का सही तरीका ना पता होने के कारण या तो वह काफी परेशानी में भी कैसे -तैसे चलाते रहते हैं मगर सक्सेज नहीं रहते या फिर कुछ दिनों के बाद काफी परेशान होने के बाद वह business को बंद भी कर देते हैं 

Also Read- Google Task Mate app क्या है और Task Mate app से पैसे कैसे कमाएं। 

एक रिपोर्ट के अनुसार भारत में 80 फीसदी स्टार्टअप 1 वर्ष के अंदर ही बंद हो जाते हैं इसका कारण होता है स्टार्टअप शुरू करने वाले का बाजार और उनके business के विषय में कम ज्ञान जिसके वजह से उनका तालमेल बाजार से नहीं बैठता और मजबूरन उन्हे अपना बिजनेस बंद करना पड़ता है।

कुछ दिनों के बाद बिजनेस का बंद कर देना इसका मतलब यह साफ होता है कि उन्हें बिजनेस चलाने का सही तरीका नहीं पता था, तो इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद हमें विश्वास है कि आप को खुद पे भी भरोसा हो जायेगा की आप के दिमाग़ में जो बिजनेस है वह आपके लिए सही है भी या नहीं तो आइए शुरू करते हैं। 


बिजनेस किसे कहते हैं? ( What is a business? )

 कोई भी बिजनेस शुरू करने से पहले हमें यह जान लेना बहुत ही जरूरी होता है कि बिजनेस किसे कहते हैं। तो मैं आपको बता दूं कि बिजनेस वह एक प्लानिंग है जो दूसरों की जरूरतों को पूरा करते हुए,साथ ही अपना इनकम करता है। जैसे जनरल स्टोर, जो एक आदमी बहुत सारे सामान को एक जगह स्टोर करके रखता है। और लोगों के जरूरत को पूरा करता है और फिर उसके यहाँ से एक एक करके अपने जरूरत के हिसाब से लोग सामान खरीदते हैं।

 ऐसे कई अनगिनत तरिके हैं जिसे बिजनेस कहते हैं। कोई भी बिजनेस करने से पहले उसके लिए एक प्लानिंग होना बहुत ही जरूरी होता है। साथ ही कुछ बातो का ख्याल रखना बहोत ही जरूरी होता हैं। 

(1) उचित स्थान का चुनाव करना (Choosing the right place)-

कोई भी बिज़नस शुरु करने से पहले ये जांच कर लेना बहुत ही जरुरी होता है, कि जिस जगह पे आप जो बिज़नस करने वाले हैं क्या वहां पर वह बिजनेस चलेगा। क्या वहां पर लोगों को उसका जरूरत है। अगर आपने ये जाँच कर लिये हैं तो में आपको 100% भरोसा देता हूँ की आप का बिजनेस चलेगा ही चलेगा।

जैसे :- चलिए मैं आपको एक कहानी के रूप में बताता हूं एक गांव था जहाँ से करीब 2 किलोमीटर दूर बाजार था। तो एक व्यक्ति उस गांव में ही नाइ का दुकान डाल दिया। लोग नाइ की दुकान पर भीड़ लगाने लगे क्योंकि मार्केट कौन जाता बाल कटाने के लिए तो लोग नाइ के दुकान पर ही इकट्ठा होने लगे। अब यह देख वहां पर एक व्यक्ति ने अब चाय का दुकान डाल दिया अब जीतने लोग नाई के दुकान पर इकट्ठे होंगे उनमें से कुछ लोग तो चाय जरुरी पिएंगे।

 दोनों अच्छा पैसा कमाने लगे अब क्या था नाई और चाय वाले को देख एक व्यक्ति ने कपड़े का दुकान डाल दिया। मगर उसके दुकान पे कोई नहीं जाता था पता हैं क्यू, कियूं की बाल बनवाने और चाय पिने के लिये लोग दूर नहीं जायेंगे वो नजदीक ही देखेंगे। मगर जब कपड़ा लेने का सवाल आता हैं तो लोग दो चार जगह देखने के बाद ही खरीदते हैं। इसलिए, नाई और चाय वाले की तरह सही जगह पर बिजनेस प्लानिंग करे नाकि कपड़े वाले की तरह 

2)  कस्टमर के साथ व्यवहार (Relation between customers)-

बिजनेस शुरू करने वाले, कर तो देते हैं मगर कस्टमर के साथ अच्छा बर्ताव ना होने के कारण उनका लिंक धीरे-धीरे टूट जाता हैं। जो एक दिन साफ -साफ दिखाई भी देने लगता हैं। जैसे सेम दुकान पे काफी भीड़ तो होती हैं मगर आप के दुकान पे एक भी नहीं। जिससे समझ हो जाना चाहिए की आप का बर्ताव अच्छा नहीं हैं या फिर आप के बोलने, समझाने का तरीका सही नहीं हैं। 

इस लिये कस्टमर से अच्छे से बात करे ताकि कस्टमर को आप का बात समझ में आ जाय और वो आप की बातो से सहमत होके अपने घर जाय। 

(3) सही प्रोडक्ट का चुनाव करना (Choosing the right product)-

कभी कभी महंगा सामान सस्ते में मिलता है उसका कारण होता है कि उस समान में कोई कमी आ जाना, तो बहुत से दुकानदार कम पैसे में खराब प्रोडक्ट को खरीद के और अपने कस्टमर को अधिक दाम में सेल कर देते हैं। वो ये भूल जाते हैं की कस्टमर बेवकूफ नहीं हैं जैसे ही कस्टमर को उनके करतूतो का पता लगता हैं वो दोबारा उस दुकान पे नहीं जाते और साथ ही लोगों के साथ साझ भी करते हैं। 

इस लिये जिस भी प्रोडक्ट का आप बिजनेस कर रहें हैं उसका अच्छे से चुनाव करे ताकि आप के कस्टमर तक  अच्छा प्रोडक्ट पहुँचे जिससे आपके कस्टमर का भरोसा आप पे दिन प्रतिदिन बढ़ता ही रहें। 

Also Read- Signal app क्या है? Signal app किस देश की कंपनी है? Signal app का CEO कौन है? Signal app owner कौन हैं? क्या Signal app whatsapp का alternative है?

Conclusion-

हमें आशा है कि आपको इस बिजनेस से सबंधित आर्टिकल को पढ़कर Business से जुड़े जानकारी अवश्य मिले होंगे ये जानकारी आपको कैसा लगा अपना अनुभव साझा करें और इसी तरह readhindinews से जुड़े रहें धन्यवाद।

Previous
Next Post »